रविवार, 24 मार्च 2019

कही आपने भी तो नहीं रखा तुलसी का पौधा इस दिशा में ?

हमारे शास्त्रों में और हिन्दू धर्म में तुलसी को बहुत महता दी गई है । बहुत से लोग अपने घरों में तुलसी का पौधा लगाते है और रोजाना उसकी पूजा करते है । तुलसी के पौधे को घर में लगाना बहुत शुभ माना जाता है । लोग तो हर साल तुलसी का विवाह भी बड़ी-धूमधाम से करते है । तुलसी के पौधे से कई सारी दवाईयां भी बनती है । तुलसी के अर्क से सर्दी-खांसी, बुखार आदि भी दूर होते है । लेकिन तुलसी को भी वास्तु के अनुसार सही दिशा में लगाना बहुत जरुरी है अन्यथा घर में नकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश हो सकता है । आईये जानते है घर में तुलसी लगाने के फायदे, इसे किस दिशा में लगायें और किस दिशा में ना लगायें ।

तुलसी का पौधा कहाँ लगायें




वास्तु शास्त्र के अनुसार तुलसी का पौधा घर में उत्तर, उत्तर-पूर्व, या पूर्व दिशा में लगाना चाहिए । अगर इन दिशाओं में तुलसी का पौधा लगाते है तो घर में बरकत होती है और सकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश होता है । अगर जमीन खाली ना हो तो आप गमले भी सम्मान सहित तुलसी के पौधे को लगा सकते है । घर में इस जगह पर रखें तुलसी का पौधा
  • अगर तुलसी का पौधा रसोई के पास रखा जाए तो इससे घर के झगड़े समाप्त होते है ।
  • पूर्व दिशा में खिड़की के पास रखने से यदि घर में बच्चा जिद्दी है तो उसका जिद्दीपन दूर हो जाता है ।
  • पूर्व दिशा में तुलसी का पौधा रखने से अगर आपका बच्चा आपकी नियन्त्रण रेखा से बाहर है या किसी भी तरह की मर्यादा को लांघ रहा है तो वह सुधर जायेगा ।
  • पूर्व दिशा में तुलसी का पौधा रखने से और उसके तीन पत्ते अपने बच्चे को खिलने से आपका बच्चा आपकी बात को मानेगा और उसके अनुसार व्यवहार करेगा ।
  • तुलसी के पौधे को उत्तर-पूर्व दिशा में रखने से धन के देवता कुबेर प्रसन्न होते है और घर की आर्थिक स्थिति सुधरती है, क्योंकि इस दिशा को कुबेर देवता की दिशा माना जाता है ।
  • दक्षिण-पूर्व दिशा में तुलसी का पौधा लगाने से घर का वास्तु दोष दूर होता है ।
ये भी पढ़े : कैसी होनी चाहिए वास्तु के हिसाब से नेमप्लेट

तुलसी का पौधा सूख जाने पर क्या करें


अगर किसी वजह से घर में रखा तुलसी का पौधा सूख जाता है तो उसे किसी बहती नदी में प्रवाहित कर देना चाहिए । सूखा तुलसी का पौधा घर में रखने से बरकत नहीं रहती है । इसलिए भूलकर भी घर में तुलसी का सूखा पौधा ना रखें ।

ये भी पढ़े :  10 लकी चीजे जो पर्स में रखने से आती है लक्ष्मी 

इस दिन लगायें घर में तुलसी का पौधा


वैसे तो शुभ काम करने का कोई दिन नहीं होता और जिस दिन शुभ काम करते है वही दिन शुभ बन जाता है । लेकिन अगर फिर भी किसी एक दिन की बात की जाए तो रविवार के दिन को बहुत शुभ माना जाता है । इसलिए रविवार के दिन घर में तुलसी का पौधा लगायें । हर दिन तुलसी को जल चढ़ाना चाहिए और उसकी परिक्रमा करनी चाहिए इससे घर में शांति बनी रहती है और स्वास्थ्य सही रहता है । ठाकुर जी को भोग भी तुलसी का ही लगता है और इसलिए भी घर में तुलसी का पौधा लगाना बहुत शुभ माना जाता है ।

ये भी पढ़े : बच्चो की गन्दी हरकतों से हैं परेशान कर ले ये वास्तु के टिप्स

पैसा कमाने के लिये फेंगशुई के टोटके - Feng Shui Tips For Money

पैसा किसे अच्छा नहीं लगता ।आजकल तो सन्यासी लोग भी पैसे के पीछे पागल हुए जा रहे है ।जेब में अगर पैसा है तो सब पूछते है भाई कैसा है ।जिंदगी में पैसा कितना जरुरी है यह सब जानते है ।जिंदगी की सभी मुलभुत जरूरतें पैसों से ही पूरी होती है ।सुबह उठने से लेकर रात को सोने तक पैसों की जरूरत रहती है । अगर आपको भी पैसों की बहुत जरूरत है और हर उपाय के बाद भी पैसा नहीं आ रहा है तो आज की इस पोस्ट में हम आपको फेंगसुई के कुछ आइटम्स के बारे में बता रहे है जिन्हें अपने घर में रखने से आप पर पैसों की बौछार हो सकती है ।दरअसल फेंगसुई भारत में वास्तु शास्त्र की तरह चीन का वास्तु शास्त्र है ।

पैसा कमाने के लिए फेंगसुई आइटम



डालफिन मछली

फेंगसुई के अनुसार घर के ड्राइंग रूम में या सोने वाले कमरे में डालफिन मछली को रखें ।इससे घर में धन की बढ़ोतरी होती है और इसे खुशहाली और शांति का प्रतीक भी माना जाता है ।व्यापार में बढ़ोतरी के लिए इसे अपने व्यवसाहिक प्रतिष्ठान पर रखें ।



ये भी पढ़े : लक्ष्मी को प्रसन्न करने के उपाय

सुनहरी ड्रेगन मछली

चीन के बड़े व्यापारियों का मानना है की उनके पास धन होने की असली वजह सुनहरी ड्रेगन मछली है ।अगर आप भी धनवान बनना चाहते है तो अपने घर में सुनहरी ड्रेगन मछली पाल सकते है । अगर आप मछली नहीं पालना चाहते तो आप उसका कोई फेंग शुई आइटम्स भी रख सकते हैं ।



चाइनीज सिक्का


फेंगसुई के अनुसार अगर आप पर्स में तीन चाइनीज सिक्के रखते है तो आपकी उम्र में भी बढ़ोतरी होती है और धन में भी वृद्दि होती है ।इसे आप अपने घर के लाकर में भी रख सकते है, जिससे घर में धन की बरकत रहती है ।


फेंगसुई कछुआ

कछुआ माँ लक्ष्मी का वाहन होता है ।फेंगसुई के अनुसार घर में धातु का बना कछुआ एक बर्तन पानी में भरकर रखने से धन में वृद्दि होती है और घर में सुख-शांति बनी रहती है ।ध्यान रहे की इसे हमेशा कमरे में उत्तर दिशा में रखना चाहिए ।


ये भी पढ़े : किस दिशा में मनी प्लांट लगाने से आती है लक्ष्मी

फेंगसुई बांस

अपने घर के ड्राइंग रूम या व्यवसाहिक प्रतिष्ठान में फेंगसुई बांस के पौधे को लगाना चाहिए ।इससे उन्नति के रास्ते खुलते है और आप के पास धन की बढ़ोतरी होती है ।



तीन टांग वाला मेढक

फेंगसुई के अनुसार तीन टांग वाले मेढक को बहुत शुभ माना जाता है ।धन संबधी मामलों में इसे बहुत ही शुभ माना गया है ।यह अपने मुहं में एक सिक्का दबाये हुए रखता है ।इसे अपने घर में इस तरह रखें की इसका मुहं घर के अंदर की और जाता हुआ दिखे ।अगर घर में ऐसे तीन मेढक हो तो इससे आपकी आमदनी में दिन-दुनी, रात-चौगुनी वृद्दि होती है ।इसे आप अपने दूकान या ऑफिस में भी रख सकते है ।


झाड़ू

फेंगसुई के अनुसार झाड़ू को धन-सम्पति का सूचक बताया गया है और यही चीज भारत के वास्तु शास्त्र में भी बताई गई है ।फेंगसुई के अनुसार घर में झाड़ू का इस्तेमाल ना होने पर इसे दूसरों की नजरों से बचाकर रखना चाहिए ।फेंगसुई के अनुसार मुख्य द्वार के नीच और सामने की जमीन को हमेशा साफ़ सुथरा रखना चाहिए ।




ये भी पढ़े : 



रविवार, 17 मार्च 2019

आप भी करे ले ये लक्ष्मी को प्रसन्न करने के उपाय बरस जाएगी लक्ष्मी की कृपा

धन प्राप्ति के सरल उपाय

पैसा आज के समय में किसे अच्छा नहीं लगता। बदलते दौर में जिसके पास पैसा है लोग उसी को पूछते है भाई कैसा है। पैसे ने ना सिर्फ हमारी लाइफस्टाइल को बदला है बल्कि इज्जत भी आजकल पैसे की होने लगी है। वो कहावत है ना की भरी जेब ने दुनिया की पहचान कराई और खाली जेब ने अपनों की। पैसे के पीछे हर कोई भागता है और हर संभव कोशिश भी करता है। लेकिन कई बार पैसा कम नहीं पाते और कमाते है तो टिकता नहीं है। बिना पैसे के जिंदगी गुजारना नामुमकीन है। कई बार बड़ी मेहनत करने के बाद भी जितना चाहते है उतना पैसा नहीं मिल पाता है और हम तनाव में आ जाते है।



लक्ष्मी को खुश कैसे करे


हर कोई चाहता है की उसके पास बहुत सारा पैसा हो, लेकिन कहते है ना धन सिर्फ चाहने से नहीं मिलता उसके लिए माँ लक्ष्मी का प्रसन्न होना भी बहुत जरुरी है। अगर माँ लक्ष्मी को प्रसन्न कर लिया तो जिंदगी में कभी भी पैसे की किल्लत नहीं आएगी और अगर माँ लक्ष्मी रूठ गई तो हाथ आया हुआ पैसा भी चला जायेगा। धन की प्राप्ति के उपाय तो आप ने बहुत किये हे होंगे लेकिन आज की इस पोस्ट में हम आपको धन प्राप्ति के अचूक टोटके बताएँगे जिनको अपनाकर आप धन प्राप्ति उपाय कर सकते है। 

ये भी पढ़े : किचन वास्तु टिप्स

धन प्राप्ति के अचूक उपाय



काली मिर्च से धन प्राप्ति के अचूक उपाय

जब आप धन से जुड़े किसी कार्य के लिए बाहर जा रहे है तो अपने घर के मुख्य दरवाजे पर काली मिर्च रखे और बाहर निकलते समय उस पर पैर रखकर निकले। जिस काम को पूरा करने के लिए गए है और यूज़ पूरा करके ही लौटे तभी यह उपाय काम करेगा। इस उपाय को करने से आप जल्दी ही पैसे वाले बन जायेंगे। काली मिर्च के 5 दाने ले और उन्हें अपने सिर पर से 7 बार अवारकर किसी चौराहे या सुनसान स्थान पर खड़े होकर चारों दिशाओं में 4 दाने फेंक दे और पांचवा दाना उपर आसमान की और फेंक दे। इसके बाद चौराहे से वापिस लौटते समय पीछे पलटकर ना देखें। कहा जाता है की इस उपाय से अचानक धन प्राप्ति के योग बनते है।

धन प्राप्ति के लिए मंत्र

शाम के समय माँ लक्ष्मी के सामने दीप जलाकर निचे दिए गए मन्त्र का जाप करें। आप इस धन प्राप्ति मंत्र का जाप 108 बार कर सकते है। ॐ ह्रीं श्रीं लक्ष्मीभयो नमः॥

ये भी पढ़े : कैसे करे कम पूंजी का व्यापार

चावल से धन प्राप्ति के अचूक उपाय

एक लाल रेशमी कपडा ले और उस कपडे में चावल के 21 दाने रखें। ध्यान रहें की कोई भी दाना खंडित नहीं होना चाहिए। उन दानो को कपडे में बाँध ले। इसके बाद माँ लक्ष्मी की विधि-विधान से पूजा करें और पूजा में यह लाल कपडे में बंधे चावल भी रखें। पूजा के बाद लाल रंग के कपडे में बंधे चावल अपने पर्स में छुपाकर रखें। ऐसा करने से आपके धन संबधी सारी समस्याएं दूर हो जाएगी।

अखंड ज्योत करें

माँ लक्ष्मी की मूर्ति के सामने 11 दिनों तक अखंड ज्योत तेल के दीपक से करें और 11 वें दिन 11 कन्याओं को भोजन करवाएं और एक सिक्का तथा मेहँदी दे। इससे माँ लक्ष्मी प्रसन्न होती है और धन की प्राप्ति होती है।

हम आशा करेंगे की आप भी ये धन प्राप्ति के सामान्य टोटके करके अपनी जिंदगी को सुखद बनाएगे


ये भी पढ़े :

शनिवार, 16 मार्च 2019

कही आपने भी तो नहीं लगाया इस दिशा में **मनी प्लांट** ?

मनी प्लांट कहाँ लगाए जान ले मनी प्लांट का वास्तु

अक्सर हम दुविधा में रहते है कि वास्तु के अनुसार कौन सा पौधा किस दिशा में लगाना चाहिए ? मनी प्लांट घर मे लगाने वाले पौधे में से एक है । आपने मनी प्लांट के पौधे के बारे में सुना होगा और शायद लोगों के घर में इसे देखा भी होगा। वास्तु के अनुसार मनी प्लांट एक ऐसा पौधा है जिसे घर में लगाने से घर में सुख-शांति आती है और धन की प्राप्ति होती है। इसे घर में लगाने से सकारात्मक ऊर्जा आती है और शास्त्रों के अनुसार यह बहुत ही शुभ पौधा माना जाता है। लेकिन वास्तु के अनुसार इस पौधे को अगर गलत दिशा में लगा दिया या इसकी देख-रेख सही से नहीं की तो यह धन को ले भी सकता है मतलब हमें आर्थिक रूप से नुकसान भी हो सकता है। इसलिए इसे लगाते समय दिशा का बहुत ध्यान रखें। आईये जानते है मनी प्लांट लगाने के क्या फायदे है और इसे किस दिशा में लगाना चाहिए।


ये भी पढ़े कहा लगाए बांस का पौधा 

मनी प्लांट को किस दिशा में लगाना चाहिए ?

मनी प्लांट लगाने के लिए दक्षिण-पूर्व की दिशा को सबसे शुभ माना जाता है। इस दिशा में लगाने से घर में धन प्राप्ति होती है और सुख-समृद्दी का वास होता है। घर में सकारात्मक ऊर्जा आती है। इस पौधे की सबसे ख़ास बात यह है की यह घर आँगन और कहीं पर भी आसानी से लग जाता है। इसे पानी में भी लगाया जा सकता है और इसके रख-रखाव के लिए ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ती है। लेकिन इस बात का विशेष ध्यान रखें की मनी प्लांट को ऐसी जगह रखें जहाँ धुप ना हो और इसे हर सप्ताह बदल देना चाहिए।

ये भी पढ़े करसुआला का चमत्कारी पौधा कहा लगाए 

इस दिशा में नहीं लगाना चाहिए मनी प्लांट

मनी प्लांट को कभी भी उतर-पूर्व और पूर्व-पश्चिम दिशा में नहीं लगायें। इससे पति-पत्नी के रिश्तों पर बुरा असर पड़ता है और घर में नकारात्मक ऊर्जा आती है। मनी प्लांट ना सिर्फ घर में धन लाता है बल्कि रिश्तों में भी मधुरता लाता है इसलिए दिशा का विशेष ध्यान रखें।

मनी प्लांट लगाने की विधि - मनी प्लांट के फायदे

  • इसका सबसे बड़ा फायदा तो यह है की इसे लगाने से धन की प्राप्ति होती है। कहा जाता है की जिस घर में मनी प्लांट का पौधा लगा होता है उस घर में धन की समस्या कभी नहीं आती। 
  • इस पौधे को सही दिशा में लगाने से रिश्तों में मधुरता आती है और पति-पत्नी के बीच तनाव खत्म होकर प्यार बढ़ता है। 
  • कुछ लोग इसे घर की सजावट के लिए भी लगाते है। इसके हरे रंग के पत्ते किसी को भी अपनी और आकर्षित कर लेते है। यह पौधा देखने में बहुत सुंदर लगता है। 
  • लोग घरों में ऐसा पौधा लगाना पसंद करते है जिसकी कम देखभाल करनी पड़े। मनी प्लांट भी ऐसा ही पौधा है जिसकी कम देखभाल की जरूरत होती है। कम देखभाल में भी यह पौधा अच्छा परिणाम देता है।
  • यह घर से नकारात्मक ऊर्जा को दूर करता है और सकारात्मक ऊर्जा को लाता है जिससे घर में तनाव नहीं पनपता। 
  • मनी प्लांट का पौधा घर के वास्तु दोष को भी दूर करता है। 
  • मनी प्लांट का संबध शुक्र ग्रह से है। ऐसे में जिसका शुक्र कमजोर है उसे घर में मनी प्लांट का पौधा लगाना चाहिए, क्योंकि शुक्र ही हमारी सुख-सुविधाओं और मान-सम्मान का कारक होता है।

बम्बू प्लांट को लगाने के फायदे और नुकसान तथा इसे किस दिशा में लगाना चाहिए

बम्बू प्लांट जिसे हिंदी में बाँस का पेड़ कहा जाता है लोगों को घर की सजावट का बहुत शौक होता है। इसके साथ ही लोग आजकल अपने घर के पास एक छोटा सा गार्डन भी बनाते है और उसमे बहुत सारे पौधे भी सजावट के लिए लगाते है। अगर आप घर में सुख-शांति चाहते है तो आप उस छोटे से गार्डन में बाँस का पेड़ लगा सकते है। बाँस का पेड़ हेल्थ के साथ-साथ पॉजिटिव एनर्जी भी देता है। आईये जानते है बाँस का पेड़ लगाने के फायदों के बारे में और इसे किस दिशा में लगाना सही रहता है।


बाँस का पेड़ लगाने के फायद



  • फेंग सुई जो की चीन का वास्तुशास्त्र है उसके अनुसार घर में बाँस का पेड़ लगाने से ख़ुशी का माहौल रहता है और मेल-झोल बढ़ता है। 
  • यह दिखने में भी बहुत अच्छा होता है इसलिए आप इसे किसी त्यौहार या स्पेशल अवसर पर अपने दोस्तों या रिश्तेदारों को गिफ्ट दे सकते है। 
  • यह घर से नेगेटिव एनर्जी को दूर करके पॉजिटिव एनर्जी लाता है जिससे हैल्द भी सही रहती है। इसका इस्तेमाल घर में करने से घर में समृद्दी आती है और शांति रहती है। 
  • बाँस का पेड़ को घर में लगाने से घर से बीमारियाँ दूर होती है और शरीर स्वस्थ रहता है। इससे आप अपने घर को सजा भी सकते है। इसको घर में लगाने से सौभाग्य और शुभ फल की प्राप्ति होती है। 
  • बाँस का पेड़ को लगाने से घर में धन का आगमन होता है और घर के स्वामी पर किसी तरह की आर्थिक परेशानी नहीं आती। 

ये भी पढ़े एक चमत्कारी पौधा जो बदल देगा किस्मत

कितने बाँस का पेड़ लगाना सही रहता है ?


हालाँकि इसका कोई फिक्स अनुमान नहीं है आप चाहे तो सिर्फ एक ही बाँस का पेड़ लगा सकते है, लेकिन फिर भी फेंगसुई के अनुसार इतनी संख्या में बाँस का पेड़ लगाने के अलग ही फायदे है।
  • शादी और प्यार के लिए 2 बाँस का पेड़ लगायें। 
  • लम्बी उम्र, धन प्राप्ति और अच्छे स्वास्थ्य के लिए 3 बाँस का पेड़ लगायें। 
  • अपने करियर में सफलता पाने के लिए 4 बाँस का पेड़ लगायें। 
  •  पुरे परिवार के अच्छे स्वास्थ्य के लिए 7 बाँस का पेड़ लगायें। 
  •  मानसिक शांति के लिए 10 बाँस का पेड़ लगायें। 

ये भी पढ़े : आखिर क्यों लगाना चाहिए शमी का पेड़

इस दिशा में लगायें बम्बू प्लांट


बाँस का पेड़ दक्षिण पूर्व दिशा में लगाना बेहतर माना जाता है क्योंकि इस दिशा में लगाने से घर में शांति बनी रहती है और धन का आगमन होता है। बाँस का पेड़ लगते समय ध्यान रखें इन बातों का इसे खिड़की के पास या ऐसी जगह पर ना रखें जहाँ धुप सीधी आती हो। इससे पौधा जल जायेगा और खराब हो जायेगा। इसे भूलकर भी ना टाँगे। इससे पौधा खराब हो जायेगा और घर में नेगेटिव एनर्जी आएगी। इसे आसानी से घर के डाइनिंग टेबल या घर के किसी भी हिस्से में सजावट के लिए रख सकते है। ध्यान रहे यह पौधा मुरझाना नहीं चाहिए।


ये भी पढ़े : 



बुधवार, 13 मार्च 2019

भूलकर भी न रखे अपने बच्चे के कमरे में ये चीजे

घर में हर सदस्य के लिए अलग जगह होती है और ऐसे में हम बच्चों की जगह का ख़ास ध्यान रखते है क्योंकि पढ़ाई के दौरान उन्हें किसी तरह की तकलीफ ना हो।आजकल तो ऐसा ट्रेंड चल पडा है की बच्चों का कमरा ही अलग होता है और जिनमे उनकी सारी चीजें होती है। ऐसे में बच्चे माँ-बाप से दूर रहते है तो बच्चे कमरे में क्या कर रहे है और उनकी सुर्ख्सा का ध्यान रखने की जिम्मेदारी माँ-बाप की होती है।उनके कमरे में कौनसी चीजें रखना जरुरी है और कौनसी चीजें नहीं रखनी चाहिए इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए।आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे की बच्चों के कमरे में किन-किन चीजों को नहीं रखना चाहिए।

ये भी पढ़े : किस दिशा में रखे चमतकी क्रैसुअल का पौधा



बच्चों के कमरे में भूलकर भी ना रखें यह चीजें


भारी पेंटिंग या शीशा


कभी भी बच्चों के कमरे में भारी पेंटिंग या शीशा नहीं रखना चाहिए क्योंकि इससे बच्चों को खतरा हो सकता है।बच्चे बहुत जिद्दी होते है और ऐसे में उन्हें इन चीजों से चोट लग सकती है।

बिजली के सामान


बच्चों को अपने कमरे में बिजली के सामान बहुत अच्छे लगते है।इसलिए बिजली के स्विच उपर की और रखें और अगर निचे है तो उसे कवर से ढक कर रखें।बिजली के तार को उपर की और लगायें जिससे उन तक उनका हाथ ना पहुँच पायें।


ये भी पढ़े : किस दिशा में सोना चाहिए



नुकीली चीजें ना रखें


बच्चे अगर छोटे है तो उनके कमरे में नुकीली चीजें जैसे सुई, केंची, पिन, चाक़ू आदि ना रखें।बच्चे शैतानी करते वक्त इन चीजों में कुछ ज्यादा ही रूचि लेते है और एसेमे इन्हें नुकसान उठाना पड़ सकता है।

दवाईयां


कभी भी अपनी दवाई हो या बच्चों की दवाई उन्हें बच्चों के कमरे में नहीं रखनी चाहिए।बच्चों को यह पता नहीं चलता की यह दवाई है और इसलिए वे इसे सीधा खा सकते है जिनसे उन्हें साइड इफ़ेक्ट हो सकते है और यह उनके लिए बहुत नुकसानदायक होता है।

कमरे की सफाई रखें


बच्चों की आदत होती है की वे जमीन पर पड़ी चीजों को मुहं में डाल देते है जिनसे उन्हें नुकसान पहुँचता है, इसलिए हमेशा कमरे की सफाई रखें।

इलेक्ट्रॉनिक गैजेट ना रखें


बच्चों के कमरे में कभी भी इलेक्ट्रॉनिक गैजेट जैसे मोबाइल, टीवी आदि ना रखें।इससे बच्चों पर नेगेटिव इफ़ेक्ट पड़ता है और बच्चे पढ़ाई से दूर रहते है।

इन बातों का भी ध्यान रखें



  • बच्चों के कमरे को ज्यादा फेशनेबल ना बनायें और जितना साधारण रहेगा उतनी ज्यादा चीजें उसमे आएगी। 
  • बच्चों के कमरे में हर जगह शीशे ना लगायें और इसकी जगह प्लास्टिक का प्रयोग करे. 
  • किताबों को ज्यादा उंचाई पर ना रखें, क्योंकि ज्यादा उंचाई पर किताबें रखने से बच्चे उन्हें लेने की कोशिश करते है और इससे उन्हें चोट आ सकती है। 
  • कमरे का फर्नीचर मजबूत होना चाहिए। 
  • कमरे में बेड या टेबल का किनारा धारदार नहीं होना चाहिए, क्योंकि इससे बच्चे को चोट लग सकती है।
  • बच्चे की हर जरूरत का अच्छे से ख्याल रखें । 

ये भी पढ़े : कैसी होनी चाहिए घर की नेमप्लेट


गुरुवार, 7 मार्च 2019

घोड़े की तरह भागने लगेगा व्यापार , लगा ले ये काले घोड़े की नाल

अक्सर आपने घर के बाहर या अंदर सही जगह पर घोड़े की नाल को लटके हुए देखा होगा।बहुत से लोग अपने घरों में घोड़े की नाल को लगाते है, क्योंकि इसके बहुत से फायदे है।आखिर लोग घरों में घोड़े की नाल क्यों लगाते है और इसके क्या फायदे है, आज हम इस पोस्ट में इसके बारे में जानेंगे।
  • काले घोड़े की नाल लगाने के फायदे
  • घोड़े की नाल की अंगूठी किस ऊँगली में पहने 
  • दरवाजे पर घोडे की नाल कैसे लगाएं ? 
  • घोड़े की नाल किस दिशा में लगाए ?
  • काले घोड़े की नाल ऑनलाइन खरीदे 

काले घोड़े की नाल लगाने के फायदे



बुरी शक्तियों के प्रवेश पर रोक

जिस घर में मुख्य द्वार पर घोड़े की नाल लगाईं होती है उस घर में सौभाग्य की बढ़ोतरी होती है और कभी भी उस घर में नकारात्मक उर्जा और बुरी शक्तियाँ नहीं आती।यह इंसान को बुरी नजर से भी बचाता है।

शनि देव को प्रसन्न करें

काले घोड़े की नाल को घर के मुख्य द्वार पर लगाने से शनि देव प्रसन्न रहते है और उनकी कृपा दृष्टि हमेशा आप पर बनी रहती है।अगर किसी को शनि दोष है तो वह अपने घर के मुख्य द्वार पर काले घोड़े की नाल लगायें, इससे उसका दोष कम हो जायेगा।आप चाहे तो काले घोड़े की नाल से बनी अंगूठी को मध्यमा अंगुली में पहन सकते है।इससे शनि की साढ़े-शाति दूर होती है.

अनाज की कमी को दूर करें

अगर काले घोड़े की नाल को काले कपडे में लपेटकर अनाज में रख दिया जाए तो घर में कभी भी अनाज की कमी नहीं होती।

धन में बढ़ोतरी

काले घोड़े की नाल को काले कपडे में बांधकर तिजोरी में रखने से कभी भी घर में धन की कमी नहीं आती।

काले जादू से रक्षा करें

इस दुनिया में हमारे बहुत से दुश्मन भी होते है और हमें बर्बाद करने के लिए जादू-टोना और तांत्रिक का सहारा लेते है और वे कालू जादू से हमारे काम को रोक देते है।लेकिन अगर आप घर में घोड़े की नाल को रखते है तो इससे काले जादू और टोना-टोटके से रक्षा होती है।

शनि देव के प्रकोप से मुक्ति

अगर काले घोड़े की नाल से 4 कील बनाकर शनि पीड़ित व्यक्ति के पलंग में गड़वा दी जाए तो इससे शनि देव का प्रकोप खत्म हो जाता है और उनकी कृपा दृष्टि हम पर बनी रहती है।

सेहत हो अच्छी

कीले घोड़े की नाल से कील बनाकर उसे सवा किलो उड़द की दाल में रखकर एक नारियल के साथ जल में प्रवाहित करने से आप सब रोग से मुक्त हो जाते है और आपकी सेहत अच्छी रहती है।

दुश्मनों से मिले छुटकारा

दूकान के बाहर काले घोड़े की नाल लगाने से दुश्मनों की संख्या में कमी आती है और ग्राहकी बढती है।परिस्थितियाँ आपके अनुकूल रहती भाई और शत्रु भी मित्र बन्ने लगते है।

पारिवारिक कलेश से छुटकारा

अगर घर में लड़ाई-झगड़े रहते है और मन शांत नहीं रहता तो घर के बाहर काले घोड़े की नाल टांगने से पारिवारिक कलेश खत्म होता है और घर में सकारात्मक ऊर्जा आती है।

बिगड़े काम बन्ने लगे

घोड़े की नाल कैसे लगाए ?

शनिवार के दिन काले घोड़े के नाल से बनी अंगूठी को मध्यमा अंगुली में पहनने से बिगड़े काम बन्ने लगते है और काम में आई रूकावट दूर होती है।जो काम आपने सोच रखा है वो अच्छे से होता है।

घोड़े की नाल किस दिशा में लगाए?

इस दिशा में लगायें घोड़े की नाल इसे उत्तर, पश्चिम और उत्तर-पश्चिम दिशा में लगायें क्योंकि इससे बहुत फायदे मिलते है। इस दिशा में भूलकर भी ना लगायें अगर आपके मकान का मुख्य दरवाजा पूर्व या दक्षिण दिशा में है तो इसे ना लगायें, क्योंकि घोड़े की नाल मेटल की होती है और इस दिशा में मेटल लगाना अशुभ मना जाता है और इसका हमारी जिंदगी पर बुरा असर पड़ सकता है।

काले घोड़े की नाल ऑनलाइन खरीदे



क्रासुला के पौधें के फायदे, नुकसान और इसे किस दिशा में रखना चाहिए

क्रासुला पौधे के लाभ

क्रॉस्सुल प्लांट को हिंदी में  पुलाव का पौधा कहा जाता है । भारत में क्रासुला का पौधा बहुत मशहूर है । हमारी धरती पर कई ऐसे पौधें है जो स्वास्थ्य के लिए तो फायदेमंद है ही, इसके अलावा वास्तु के हिसाब से भी बहुत काम के है।कुछ पौधे ऐसे भी है जिनकी सही देखभाल और पूजा करने से देवता प्रसन्न होते है और जीवन से सारी परेशानियां दूर होती है।जैसे शमी का पौधा भगवान शनि देव को प्रिय है और उसकी पूजा करने से भगवान शनि देव प्रसन्न होते है और शनि के सारे दोष दूर भी होते है। उसी तरह तुलसी, पीपल, ब्राह्मी, आंवला आदि पौधों की पूजा करना शास्त्रों में बहुत शुभ माना गया है। इनकी पूजा करने से और इन्हें घर में रखने से कई तरह के फायदे होते है।इसी तरह एक पौधा है क्रासुला का पौधा।क्रॉस्सुल प्लांट फेंगसुई और वास्तु दोनों में हे बहुत महत्तवता रखता है ।कहीं इसके फायदे भी बताये गए है तो कहीं नुकसान।आइये जानते है क्रासुला के पौधें से जुड़े रहस्यों के बारे में।

ये भी पढ़े कछुआ की रिंग के फायदे

कैसा होता है क्रासुला का पौधा



जीवन की सभी मुलभुत जरूरतों में से धन सबसे ज्यादा जरुरी है।अगर आपके पास धन है तो आप सब कुछ खरीद सकते है और अपनी बहुत सी जरूरतों को पूरा कर सकते है।वास्तु और चीनी शास्त्र फेंगसुई में कई ऐसे तरीके बताये गए है जिससे आप अपनी धन-संपदा में वृद्दि कर सकते है। धन को बढाने के लिए हम अक्सर घर में मनी प्लांट लगाते है तो इसको सही दिशा में लगाने से धन बढ़ता है और गलत दिशा में लगाने से नुकसान भी पहुँचता है।

आज हम ऐसे ही एक पौधे क्रासुला के बारे में जानेंगे। क्रासुला एक बहुत ही मुलायम और फैलावदार पौधा है जिसकी पत्तियां चौड़ी होती है। इनकी पत्तियों का रंग हरा और पीला मिश्रित होता है। क्रासुला का पौधा दिखने में सुंदर और छुने में मुलायम होता है।सबसे ख़ास बात यह है की इस पौधे की पत्तियां मजबूत होती है, क्योंकि यह रबड़ जैसी होती है जिससे छुने से टूटने का डर नहीं रहता।

क्रसुला पौधे की देखभाल - Crassula plant care

इसकी ज्यादा देखभाल करने की भी जरूरत नहीं होती और इसे आप हफ्ते में 3-4 बार ही पानी दे सकते है। यह घर में लम्बी-चौड़ी जगह भी नहीं घेरता, इसलिए इसे आसानी से  पौधे में लगाया जा सकता है।

ये भी पढ़े कैसी होनी चाहिए वास्तु के अनुसार सीढ़ी

क्रासुला के पौधे के फायदे और दिशा

फेंगसुई के अनुसार क्रासुला का पौधा घर के प्रवेश द्वार दाहिनी दिशा में रखना चाहिए, जहाँ से सूर्य की रौशनी इस पर पड़े। फेंगसुई में क्रासुला का पौधा सकारात्मक ऊर्जा को प्रवेश देता है। इस पौधे को घर में रखने से धन में वृद्दि होती है। पैसों के लिए क्रसुला का पौधा बहुत अच्छा माना गया है । यह पौधा धन को आपके घर की और खींचता है।अगर आपके घर में धन नहीं रहता और आते ही चला जाता है तो आप इस पौधे को घर में रखें, आपको बहुत फायदा मिलेगा।इससे घर में पॉजिटिव एनर्जी आएगी और बरकत बढ़ेगी। कहा जाता है की इस पौधे को लगाने के बाद आपको धन-प्राप्ति के नए-नए अवसर मिलेंगे और आपका मन भी खुश रहेगा।यह पैसे को चुम्बक की तरह आपके घर की और खींचता है।कई लोगो ने इस पौधे को घर में लगाकर इसके फायदे देखे है।अगर आप भी धन की समस्या से परेशान है तो एक बार इस पौधे को घर में जरुर लगायें ।


ये भी पढ़े ग्राहक बढाने के टोटके

Crassula plant online भी खरीदा जा सकता हैं ।

बुधवार, 6 मार्च 2019

कैसी होनी चाहिए वास्तु के हिसाब से नेमप्लेट

घर में घुसने से लेकर बाहर निकलने तक हर एक चीज वास्तु के हिसाब से हो तो जिंदगी में किसी भी तरह की तकलीफ नहीं होती है।बाथरूम से लेकर पूजा घर तक हर जगह वास्तु का विशेष ध्यान रखना चाहिये।इसी तरह घर की नेमप्लेट बनवाते समय और लगाते समय भी वास्तु का ध्यान रखना बहुत जरुरी है। नेमप्लेट हमारे घर की पहचान है जिसके माध्यम से लोग हमें जानकार हमारे घर आते है।नेमप्लेट मुख्य द्वार की शोभा बढाने के साथ-साथ सकारात्मक ऊर्जा को भी अपनी और आकर्षित करता है।इसलिए आपको भी यह अच्छे से पता होना चाहिए की वास्तु के अनुसार नेमप्लेट कैसी हो किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

वास्तु के अनुसार नेमप्लेट बनवाते समय ध्यान रखें इन बातों का

इस तरह लगायें नेमप्लेट


नेमप्लेट को हमेशा मुख्य द्वार के बाई और लगाना चाहिए।नेमप्लेट प्रवेश द्वार की आधी उंचाई के उपर लगानी चाहिए।इससे घर में सुख-शांति और खुशहाली आती है।घर में किसी भी तरह का तनाव नहीं रहता और सकारात्मक ऊर्जा का वास होता है।

नेमप्लेट का आकार ऐसा हो


नेमप्लेट का आकार वृताकार, त्रिकोनी या पांच कोने वाला होना चाहिए।एक बात का हमेशा ध्यान रखें की नेमप्लेट को अच्छे से फिक्स करके लगायें ताकि वह गिरे ना।नेमप्लेट के सामने किसी भी तरह का खम्बा या पेड़ नहीं होना चाहिए।

नेमप्लेट के सामने ना रखें यह चीजें

ये भी पढ़े बटुवे में रखे ये 10 चीजें बरसती रहेगी हमेशा लक्ष्मी



नेमप्लेट के सामने किसी भी तरह की इलेक्ट्रॉनिक चीजें ना रखें।सफाई का सामान भी नेमप्लेट के सामने नहीं रखना चाहिए।ऐसा वास्तु के अनुसार अशुभ माना जाता है और जो वास्तु के अनुसार अशुभ है वह हमारे लिए भी सही नहीं है।एक बात ध्यान रखें की नेमप्लेट टूटी-फूटी नहीं होनी चाहिए।

नेमप्लेट पर ना हो ऐसे चित्र


नेमप्लेट पर पशु-पक्षी, देवी-देवता आदि की तस्वीरें नहीं होनी चाहिए और इसमें किसी तरह का छेद नहीं होना चाहिए, क्योंकि यह सब वास्तु के हिसाब से सही नहीं माने जाते।

नेमप्लेट के दौरान इन बातों का विशेष ध्यान रखें

ये भी पढ़े अगर नहीं पढते है बच्चे तो करे ये वास्तु टिप्स



  • नेमप्लेट पर अधिकतम दो लाइन में नाम लिखना चाहिए। 
  • नेमप्लेट का रंग घर में मालिक की राशि के अनुरूप होना चाहिए, क्योंकि वे घर के स्वामी होते है।
  • नेमप्लेट पर धुल, गंदगी, जाले आदि नहीं होने चाहिए।
  • नेमप्लेट पर अक्षर इस तरह से लिखे हो ताकि आसानी से पढ़े जा सके। 
  • जो नेमप्लेट बनाता है यूज़ उसकी तय राशि के अलावा इनाम भी देना चाहिए। 
  • कभी भी दो नेमप्लेट एक साथ नहीं होनी चाहिए. 
  • ध्यान रखें की नेमप्लेट के पीछे छिपकली या किसी भी तरह के जीव-जन्तु अपना बसेरा ना कर पायें।
  • नेमप्लेट पर अगर काली चींटियाँ घुमती है तो यह बहुत शुभ माना जाता है। 
  • नेमप्लेट पर अंकित अक्षर गिरने या टूटने नहीं चाहिए क्योंकि ये वास्तु के अनुसार अशुभ माना जाता है
  • नेमप्लेट इतनी बड़ी होनी चाहिए की एक या दो फीट की दुरी से भी उसे पढ़ा जा सके। 
  • मुख्य द्वार और नेमप्लेट चमकीले होनी चाहिए ताकि किसी को भी आसानी से आकर्षित कर सके।

नहीं करेंगे बच्चे परेशान ,कर ले ये वास्तु टिप्स

वैसे इसमें कोई बड़ी बात नहीं है की छोटे बच्चे जिद्दी होते है और वैसे भी जिद्दी बच्चे घर में अच्छे लगते है, क्योंकि उनसे घर में रोनक रहती है लेकिन कहते है ना की अति हर चीज की खराब होती है। ऐसे ही अगर बच्चा हद से ज्यादा जिद्दी है तो फिर मामला गड़बड़ है। कई बार जिद्दी बच्चे को संभालना माँ-बाप के लिए भी मुश्किल हो जाता है। बच्चे को नहलाने, खाना खिलाने से लेकर सुलाने तक हर बात पर बच्चे को समझाना मुश्किल काम है। इसमें कुछ दोष माँ-बाप का अभी है। ज्यादा लाड़-प्यार बच्चे को बिगाड़ देता है अगर आप भी अपने बच्चे की जिद्द से परेशान हो गए है तो आज की यह पोस्ट आपके लिए ही है। आज की इस पोस्ट में हम आपको कुछ ऐसे वास्तु टिप्स के बारे में बताएँगे जिन्हें अपनाकर आप अपने बच्चे की जिद्द से छुटकारा पा सकते है।

बच्चों के जिद्दी होने के कारण



जिन बच्चों पर मंगल, बुध और राहू का दोष रहता है वे बहुत जिद्दी होते है और उन पर खुद का कण्ट्रोल नहीं रहता। यह तीनों ग्रह बच्चे को जिद्दी बनाते है और यूज़ नुकसान पहुंचा सकते है।

जिद्दी बच्चे को समझदार बनाने के वास्तु टिप्स

ये भी पढ़े अगर नहीं पढते है बच्चे तो करे ये वास्तु टिप्स

मोरपंख





दोपहर और रात का समय ऐसा होता है जब बच्चा ज्यादा जिद्द करता है तो ऐसे में यूज़ समझा-बुझा कर और खिला-पिला कर सुला दे। जब बच्चा सो जाए तो उसके उपर मोरपंख से हवा करनी चाहिए। कुछ समय ऐसा करने पर बच्चों पर पड़ने वाला नकारात्मक प्रभाव खत्म होने लगता है और वे समझदार होने लगते है।

माँ सरस्वती और हनुमान की आराधान करें





बच्चे पर राहू का प्रभाव होने की वजह से वो ज्यादा शैतानी करने लगता है। ऐसे में बच्चे को समझाएं की वह माँ सरस्वती और भगवान हनुमान जी की आराधना करें। अश्वगंधा का छोटा सा टुकडा ताबीज में पहनाकर गले में पहना दे और बच्चे को मसालेदार खाना ना दे।

ये भी पढ़े बटुवे में रखे ये 10 चीजें बरसती रहेगी हमेशा लक्ष्मी


हनुमान चालीसा का पाठ





जिन बच्चों पर मंगल का साया होता है वे बहुत उग्र होते है और बात-बात पर बिफर जाते है। ऐसे बच्चों को समझाएं की वे भगवान हनुमान जी की चालीसा का पाठ करें। पीपल के जड़ में मंगलवार को दूध डालें। लाल मसूर की दाल मंगलवार को इनके सिर से 9 बार फिराकर किसी गरीब को दान दे। अच्छी पुस्तके पढने दे।


गणपति दर्शन



अगर बच्चे पर बुध का साया रहता है तो वह जिद्दी होता है और उस पर खुद का कण्ट्रोल नहीं रहता। ऐसे में यूज़ समझाएं की बुधवार को भगवान गणेश की मंदिर जाए और उनकी आराधना करें। हरी वस्तु का दान करवाएं। गाय को हरा चारा खिला दे।

ये भी पढ़े शरीर के 7 चक्र को कैसे जगाये -चक्र मैडिटेशन करने का तरीका

कही आप ने भी तो नहीं रखा ये सामान अपने बच्चे के कमरे में जान लीजिये vastu for children's room

बच्चे भगवान का रूप होते है और बच्चों में माँ-बाप की जान बसती है। माँ-बाप अपने बच्चे की ख़ुशी के लिए कुछ भी कर सकते है। हर माँ-बाप अपने बच्चों को अच्छा और बेस्ट ही देना चाहते है। उनकी हमेशा से ही यह इच्छा होती है की उनके बच्चे सफल हो और जिंदगी में प्रगति करें तथा आगे बढे। लेकिन फिर भी कई बार उन्हें मुसीबतों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में अगर आप अपने बच्चों का उज्जवल भविष्य बनाना चाहते है और उन्हें खुश देखना चाहते है तो कुछ चीजें ऐसी है जिन्हें बच्चों के कमरे में रख देना चाहिए। वास्तु के हिसाब से यह चीजें अभूत शुभ मानी जाती है। आईये जानते है कौनसी वे चीजें है जिन्हें बच्चों के कमरे में रखना चाहिए।

वास्तु के अनुसार बच्चों का कमरा कैसा हो ?



बेडरूम



बच्चों का बेडरूम हमेशा उतर-पूर्व दिशा में रखें, क्योंकि इस दिशा का संबध बुद्दी, बल और ताकत से है। इस दिशा में बेड रखने से बच्चों का मन पढ़ाई में लगा रहता है और उनमे सकारात्मक ऊर्जा आती है।

ये भी पढ़े अचूक नमक के टोटके इन हिंदी

स्टडी टेबल





बच्चों के कमरे में स्टडी टेबल ऐसी जगह रखें जहां बच्चों का मुहं उतर या पूर्व दिशा में हो, क्योंकि इस दिशा में बैठने से बच्चे अपने लक्ष्य को जल्दी प्राप्त करते है और उसी के अनुसार मेहनत करते है।

ग्लोब



अगर आप बच्चे को पढ़ाई में होशियार बनाना चाहते है तो ग्लोब को उतर-पूर्व दिशा में रखें, क्योंकि इस दिशा में ग्लोब रखने से शिक्षा और ज्ञान का संचार होता है। इस दिशा में ग्लोब रखने से आपका बच्चा पढ़ाई में अव्वल रहता है और अच्छे मार्क्स लाता है।

ये भी पढ़े: कैसी होनी चाहिए वास्तु के अनुसार सीढ़ी

फोटो फ्रेम





बच्चों के कमरे में फोटो फ्रेम हमेशा पश्चिम दिशा में ही लगायें, क्योंकि इस दिशा में तस्वीर लगना वास्तु के हिसाब से शुभ माना जाता है और बच्चा खुश रहता है।

रंगो का इस्तेमाल



बच्चे के रूम में ऐसे रंगो का इस्तेमाल करें जिससे वह खुश रहें और उसे अच्छा लगे। वास्तु के अनुसार हरा रंग बच्चे के कमरे के लिए सबसे सही माना जाता है। यह रंग ताजगी, शांति और प्रगति का प्रतीक है। यह रंग आपके बच्चे के दिमाग को तेज करेगा और उसे तरोताजा रखेगा।

ये भी पढ़े: कैसा होना चाहिए वास्तु के अनुसार रसोई का रंग

बच्चे का बिस्तर



बच्चे का बिस्तर सिर्फ सोने के लिए ही नहीं होता बल्कि कई बार वे इस पर अपना होमवर्क या प्रोजेक्ट भी पूरा करते है। बच्चे का बिस्तर इस प्रकार बिछा होना चाहिए की सोते समय उसका मुहं दक्षिण या पूर्व दिशा की और हो।

इन बातों का ख़ास ध्यान रखें



  • कमरे के बाथरूम का दरवाजा बच्चे के बिस्तर के सामने नहीं होना चाहिए। 
  • बच्चे के कमरे में आइना बच्चे के बेड के सामने ना हो। 
  • बच्चों के कमरे में प्रयोग की जाने वाली लाइट ज्यादा तेज और ज्यादा कम ना हो। 
  • बच्चों के कमरे में कभी भी इलेक्ट्रॉनिक सामान का प्रयोग ना करें। 
  • बच्चे के कमरे में इस्तेमाल किया जाने वाला फर्नीचर कभी भी दीवार से सटे नहीं होने चाहिए। ऐसा होने से कमरे में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह रुकता है।

ये भी पढ़े 




शनिवार, 2 मार्च 2019

बटुवे में रखे ये 10 चीजें बरसती रहेगी हमेशा लक्ष्मी

आज के समय सिर्फ पैसा ही ऐसी चीज है जिससे हम सब तरह के भौतिक सुख प्राप्त कर सकते है। कहते है ना “पैसा खुदा नहीं, लेकिन खुदा से जुदा भी नहीं”। जिन लोगों के पास पैसा नहीं है उन्हें पता है की वे अपना जीवन कितनी तकलीफ से जी रहे है। आज के टाइम में हर चीज पैसों से मिलती है।

जिन लोगों पर माँ लक्ष्मी की कृपा रहती है उन्हें कभी भी धन की कमी नहीं होती। लेकिन कई बार हम अनजाने में कुछ ऐसे काम कर जाते है जिससे माँ लक्ष्मी रूठ जाती है और हमारे पास से चली जाती है और उसके जाने के बाद हमे अक्ल आती है और हम उपाय करने लगते है। जहां हम अपना पैसा रखते है वहां ऐसी कोई अनुपयोगी और अपवित्र चीज नहीं रखनी चाहिए जिससे माँ लक्ष्मी की कृपा हम पर से चली जाए। अक्सर लेडीज पर्स में बहुत सी ऐसी चीजे मिल जाती है जो वास्तु के हिसाब से गलत होती है ।

ये भी पढ़े : कैसे करे कम पूंजी का व्यापार

पर्स या बटुआ ऐसी चीज है जहां हम अपना पैसा रखते है, इसलिए ध्यान रखें पर्स में ऐसी कोई चीज ना रखें जिससे माँ लक्ष्मी रूठ जाए। आज की इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे की बटुए में कौनसी चीजें रखने से माँ लक्ष्मी प्रसन्न होती है और कौनसी चीजें नहीं रखनी चाहिए, जिससे माँ लक्ष्मी नाराज होती है।

lucky things to keep in wallet

What to keep in wallet to attract money 

बटुए में रखें यह चीजें माँ लक्ष्मी की कृपा हमेशा बनी रहेगी

लाल रंग का कागज़

लाल रंग के कागज़ में अपनी इच्छा लिखकर उसे रेशमी धागे से बांधकर अपने बटुए में रखें। ऐसा करने से माँ लक्ष्मी प्रसन्नं होती है और आपकी लिखी हुयी इच्छा जल्द पूरी होती है।

चावल

वास्तु शास्त्र में अनाज और धन को एक सामान बताया गया है। अगर आप अपने पर्स में चुटकी भर चावल रखते है तो आपको अनचाहे खर्चों से राहत मिलती है और पैसों में बढ़ोतरी होती है।

लक्ष्मी जी की फोटो

वास्तु के अनुसार आपको माँ लक्ष्मी की बैठी हुयी फोटो पर्स में रखनी चाहिए। ऐसा करने से आपको कभी भी पैसों की किल्लत नहीं होती और आप पर माँ लक्ष्मी की कृपा हमेशा बनी रहेगी।

सोने-चांदी का सिक्का

अगर आपके पास चांदी का सिक्का है तो उसे अपने पर्स में रखें ताकि आपको धन लाभ हो। याद रखें की सोने या चांदी के सिक्के को पर्स में रखने से पहले यूज़ मंदिर में माँ लक्ष्मी के चरणों से स्पर्श जरुर कराएं या कुछ समय के लिए चरणों में रखें।

छोटा चाक़ू पर्स में छोटा चाक़ू रखना भी शुभ माना जाता है इससे तेजी से धन आता है और माँ लक्ष्मी का आशीर्वाद मिलता है, जिससे किसी भी तरह की आर्थिक समस्या नहीं होती।
#Tip Good luck charms for success
आप चाहे तो फेंग शुई के सिक्के भी अपने बटुए में रख सकते हैं feng shui coins in wallet लकी माने जाते हैं ।

रुद्राक्ष

बटुए में रुद्राक्ष रखने से गरीबी नहीं आती है और धन में वृद्दि होती है। रुद्राक्ष भगवान शिव का भी प्रिय है और इससे माँ लक्ष्मी के साथ-साथ भगवान शिव का भी आशीर्वाद आप पर बना रहेगा। यह चीजें भूलकर भी ना रखें पर्स में पर्स या बटुए में कभी भी बेकार के कागज़, कटे-फटे नोट, ब्लेड, मरे हुए आदमी की तस्वीर, उधारी के कागज़, पुराने बिल आदि नहीं रखने चाहिए, इससे माँ लक्ष्मी नाराज होती है और आपको धन का अभाव हो सकता है।

शुक्रवार, 1 मार्च 2019

शरीर के 7 चक्र को कैसे जगाये -चक्र मैडिटेशन करने का तरीका

मानव शरीर में चक्र - What Are The 7 Chakras In Body 

क्या आप जानते हैं चक्र क्या हैं ? हमारे शरीर में कुल 7 चक्र होते है जो हमारी जिंदगी के अलग-अलग पहलु से जुड़े होते है। हर चक्र का शरीर पर अलग प्रभाव पड़ता है। इन चक्रों के बारे में काफी लोग कुछ नहीं जानते है। यह सारे चक्र एक तरह के रहस्य से भरे है। आज की इस पोस्ट में हम आपको शरीर के 7 चक्रों के बारे में बताएँगे। 

चक्र कैसे बैलेंस करे - How to balance Chakras


Chakra balancing एक कला है । 7 चक्र, मैडिटेशन की मदद से जागरूक किये जा सकते हैं । मैडिटेशन की मदद से हम अपनी इन्द्रिय को वश में कर सकते हैं । 

7 Chakra Healing 

शरीर के इन 7 चक्र को जगा कर आप कोई भी बड़ी से बढ़ी बीमारी का इलज भी कर सकते हैं । बीमारी चाहे शरीर की हो या दिमाग की मैडिटेशन की मदद से आप इन 7 चक्र को जगा कर 7 chakra Healing थेरेपी इस्तेमाल कर सकते हैं ।

ये भी पढ़े   लक्ष्मी प्राप्ति के अचूक टोटके

जानिये शरीर के 7 चक्रों के बारे में 



How to Activate chakras in human body

मानव शरीर में चक्रों को कैसे सक्रिय किया जाए 

मूलाधार चक्र


Chakra colours : लाल 
यह हमारी बॉडी का सबसे पहला चक्र है। यह चरक गुदा और लिंग के बीच 4 पंखुरियों वाला आधार चक्र है। इसका रंग लाल होता है और इसके साथ जुड़ा तत्व पृथ्वी है। यह चक्र आपको बताता है की आप बिना डर के इस धरती पर रह सकते है। जिन लोगो की जीवन में भोग, सम्भोग और नींद की प्रमुखता है उनकी ऊर्जा इस चक्र के आसपास एकत्रित होती रहती है। इस चक्र को जगाने की विधि जब तक इंसान इस चक्र में है तब तक वह पशु सामान है क्योंकि भोग, सम्भोग और नींद के आगे भी एक जिंदगी है। इसलिए खुद पर संयम रखें और इस चक्र से बाहर निकलने की कोशिश करें। जब यह चक्र जगता है तो इंसान के भीतर वीरता और आनन्द का भाव आता है और वह जागरूक होने लगता है।

ये भी पढ़े : कहां लगाएं शमी का चमत्कारी पौधा

स्वाधिष्ठान चक्र




Chakra colours : नारंगी 
यह चक्र लिंग मूल से चार अंगुल उपर स्थित है जिसकी कुल 6 पंखुरियां है। इसका रंग नारंगी है और इसका संबध पानी से है। यह चक्र हमारे इमोशनल होने की पहचान बताता है। जब यह चक्र जागृत होता है तो हमें ख़ुशी, आनंद और सुखद महसूस करने की अनुमति देता है। इस चक्र को जगाने की विधि जिंदगी में मनोरंजन बहुत जरुरी है लेकिन हद से ज्यादा नहीं, क्योंकि अधिक मनोरंजन व्यक्ति की चेतना को बेहोश कर देता है। जब यह चक्र जागृत होता है तो आलस्य, क्रूरता और दुर्गुणों का नाश होता है।

मणिपुर चक्र


Chakra colours : पीला 
यह चक्र हमारी नाभि से थोड़ा उपर स्थित होता है और इसका रंग पीला है। यह आग से जुड़ा हुआ है। यह चक्र आपके आत्मविश्वास को जगाता है और सामाजिक पहचान देता है। इस चक्र को जगाने की विधि इस चक्र पर ज्यादासे ज्यादा ध्यान लगायें और पेट से श्वांस ले। इसके जागृत होने पर लज्जा, भर, घृणा, क्लेश, कष्ट आदि से छुटकारा मिलता है।

अनाहत चक्र


Chakra colours : हरा 
इसे हृदय चक्र भी कहते है और यह चक्र छाती के बीच में स्थित है। इसका रंग हरा है और इसका तत्व हवा है। यह चक्र आपको बिना शर्त प्यार महसूस करवाता है और प्यार दुनिया का सबसे अच्छा अहसास है। इस चक्र को जगाने की विधि दिल पर संयम करने और ध्यान लगाने से यह चक्र जागृत होता है। रात को सोने से पहले इस पर ध्यान लगायें। इस चक्र के जागृत होने पर आपमें प्यार का संचय होता है और आप खुद को सबसे सुरक्षित मानने लगते है।

विशुद्द चक्र


Chakra colours : नीला 
यह चक्र गले में स्थित है और इसका रंग नीला है। इसका तत्व आवाज है। इस चक्र का मतलब है की आप बोलकर अपनी बात रखने के अधिकारी है। इस चक्र को जगाने की विधि कंठ में संयम और ध्यान लगायें। इसके जागृत होने पर भूख और प्यास को रोका जा सकता है और आपको 16 कलाओं का ज्ञान हो जाता है।

आज्ञाचक्र

Chakra colours : इंडिगो 
यह चक्र तीसरी आँख के स्थान पर भोहों के बीच में स्थित है। इसका रंग इंडिगो है और तत्व प्रकाश है। जिस व्यक्ति की ऊर्जा यहाँ ज्यादा सक्रिय है वह बहुत बुद्दिमान और तेज दिमाग वाला है। इस चक्र को जगाने की विधि आप ध्यान को ललाट पर केन्द्रित करें। इस चक्र के जागृत होने पर सारी शक्तियाँ जाग जाती है और आदमी सिद्दपुरुष बन जाता है।
यह भी पढ़ें दुकान पर ग्राहक बढ़ाने के उपाय

सहस्त्रार चक्र

Chakra colours : बैंगनी 
यह शरीर का सबसे आखिरी चक्र है जो की सिर पर स्थित होता है। इसका रंग बैंगनी है। यह मोक्ष का द्वार होता है। इस चक्र को जगाने की विधि लगातार ध्यान करते रहने से यह चक्र जागृत हो जाता है। इसके जागृत होने पर आदमी के लिए मोक्ष का द्वार खुल जाता है, क्योंकि इसमें कई तरह की अपार शक्तियाँ है।


बुधवार, 27 फ़रवरी 2019

माँ लक्ष्मी को प्रसन्न करने के उपाय - लक्ष्मी प्राप्ति के अचूक टोटके

पैसा किसे अच्छा नहीं लगता। गरीब अमीर बनना चाहता है तो अमीर और अमीर। हर किसी को पैसे की भूख है और इसके लिए इंसान हर संभव प्रयास करता है। जिस पर माँ लक्ष्मी की कृपा बन गई उसकी जिंदगी संवर जाती है और उसे कभी भी आर्थिक परेशानी नहीं आती और हमेशा उसके पार पैसों का अम्बार रहता है। लेकिन जिससे माँ लक्ष्मी रूठ जाती है उसके पास पैसे कभी नहीं टिकते। राजा को रंक बनने में देर नहीं लगती। इसलिए माँ लक्ष्मी को प्रसन्न करना बहुत जरुरी है।अगर माँ लक्ष्मी की कृपा बन गई तो जिंदगी में कभी पैसों की किल्लत नहीं आएगी।आईये जानते है माँ लक्ष्मी को प्रसन्न करने के उपायों के बारे में।

ये भी पढ़े : दुकान में ग्राहक बढाने के टोटके

माँ लक्ष्मी को प्रसन्न करने के उपाय




स्त्री का अनादर ना करें


जो लोग माँ लक्ष्मी का ध्यान और पूजा करते है उन्हें कभी भी स्त्री का अनादर नहीं करना चाहिए, क्योंकि माँ लक्ष्मी खुद एक स्त्री है, इसलिए स्त्री का अनादर करना विनाश को बुलावा देने जैसा है।

घर में साफ़-सफाई रखें


जिस घर में साफ़-सफाई रहती है वहां माँ लक्ष्मी का वास होता है।सुबह उठते ही सबसे पहले माँ लक्ष्मी का आह्वान करें और मुख्य द्वार पर हल्दी का पानी छिडके और अगर हल्दी का पानी नहीं है तो एक लोटा पानी अपने दरवाजे पर डाल दे।

ये भी पढ़े : कैसी होनी चाहिए वास्तु के अनुसार सीढ़ी

शुक्र दोष को दूर करें


अगर आप पर शुक्र दोष है तो कभी भी माँ लक्ष्मी की कृपा नहीं बनेगी, इसलिए हर शुक्रवार को सच्चे मन से उपवास करना चाहिए। इस दिन एक दक्षिणावृति शंख में जल भरकर भगवान विष्णु का अभिषेक लगातार तीन शुक्रवार तक करना चाहिए।ऐसा करने से माँ लक्ष्मी की कृपा आप पर बनी रहेगी।

लक्ष्मी प्राप्ति मंत्र - धन लक्ष्मी मंत्र का जाप करें


माँ लक्ष्मी को खुश करने के लिए “ओम शिरिंग शिरिये नम:” मंत्र का जाप 108 बार करना चाहिए। इसे शुक्रवार से शुरू करें और 43 दिन तक इस मंत्र का जाप करना चाहिए। लक्ष्मी प्राप्ति के मंत्र का जाप पूरा हो जाए तो माँ लक्ष्मी को खीर का भोग लगायें और इसके बाद 7 साल की आयु से कम उम्र की बालिकाओं को श्रदापूर्वक भोजन कराना चाहिए । भोजन में खीर तथा मिश्री को जरुर शामिल करें। ऐसा करने से माँ लक्ष्मी प्रसन्न होती है और उसकी कृपा आप पर सदेव बनी रहती है।

झाड़ू शाम को ना लगायें




अगर आप चाहते है की माँ लक्ष्मी की कृपा हमेशा आप पर बनी रहे तो कभी भी शाम के समय घर में झाड़ू ना लगायें।झाड़ू पर कभी भी पैर नहीं लगाना चाहिए और अगर गलती से झाड़ू पर पैर लग गया है तो उसी समय माँ लक्ष्मी से हाथ जोड़कर माफ़ी मांगनी चाहिए।घर में कभी भी झाड़ू को खड़ा नहीं रखना चाहिए, ऐसा वास्तु के हिसाब से अशुभ माना जाता है।

तुलसी की पूजा करें


जिसके घर में तुलसी का पौधा है उसे रोजाना तुलसी की पूजा करनी चाहिए और उसे जल चढ़ाना चाहिए।याद रखें शाम के समय कभी भी तुलसी को जल नहीं देना चाहिए और शाम के समय तुलसी की आरती करें।तुलसी माँ लक्ष्मी लक्ष्मी को बहुत प्रिय है और अगर आप उनके प्रिय का ध्यान रखते है तो माँ हमेशा पर मेहरबान रहेगी।

ऊपर बताये गए लक्ष्मी प्राप्ति के उपाय को अगर आप कर लेंगे तो माता आप पर जरूर प्रसन्न होगी और आपके बिगड़े काम बनने लगेंगे ।

ये भी पढ़े 


शमी वृक्ष वास्तु :एक चमत्कारी पौधा जो कर देगा मालामाल , पीढ़ियों तक वास करेंगी धन की देवी

शमी का पौधा कैसा होता है

पांच तत्वों से मिलकर हमारा शरीर बना है और यह पांच तत्व है धरती, वायु, अग्नि, आकाश और जल। इन्ही में से एक तत्व है धरती, जिस पर हम रहते है। इस पर उगने वाली हर वनस्पति का अपना अलग-अलग फायदा है। धरती पर उगने वाले पेड़-पौधे जितने हमारी जिंदगी के लिए जरुरी है उतना ही ग्रह-नक्षत्रों के प्रभाव को कम करने के लिए भी जरुरी है। ऐसा ही एक पौधा है शमी का पौधा। इस पौधे का संबध शनिदेव से है और यह एक चमत्कारिक पौधा है। आज हम जानेंगे इस पौधे से जुड़े कुछ रहस्यों के बारे में ।

शमी का पौधा लगाने की विधि और फायदे

शमी का पौधा कैसा होता है


शमी का पौधा कैसे लगाये

  • धन की कमी नहीं होने देगा

  • अगर घर में धन की कमी है या धन टिकता नहीं है। जितना कमाते है उससे अधिक खर्च हो जाता है तो किसी शुभ दिन घर में शमी का पौधा लायें। शनिवार के दिन सुबह जल्दी स्नान करके गमले में शुद्ध मिटटी भरकर शमी का पौधा लगा दे। इसके बाद शमी पौधे की जड़ में एक सुपारी और एक रूपये का सिक्का दबा दे। पौधे पर गंगाजल अर्पित करें और इसकी पूजा करें। पौधे में रोज पानी डालें याद रहें यह मुरझाना नहीं चाहिए। शाम के समय पौधे के पास एक दीपक जलाएं। ऐसा करने से ही कुछ ही दिन में आप देखेंगे की आपे खर्चे कम होने लगे है और धन की वृद्दि होने लगी है।
  • दूर होंगे रोग

  • अगर आपको किसी तरह का रोग है और वो दूर नहीं हो रहा है तो शनिवार शाम के समय शमी के पौधे के गमले में पत्थर या किसी धातु का छोटा सा शिवलिंग स्थापित करें। शिवलिंग पर दूध चढाएंऔर विधि-विधान से पूजा करें। इसके बाद महा-मृत्युजन्य मन्त्र का जाप करें। ऐसा करने से घर के किसी भी व्यक्ति को लगा रोग दूर हो जायेगा.
  • विवाह में आई बाधा दूर होगी

  • कई लड़कियों और लड़के के विवाह में बाधा आती है और इसका सबसे बड़ा कारण है जन्मकुंडली में शनि दोष होना। ऐसे में किसी भी एक शनिवार से शुरुआत करके 45 दिनों तक शाम के शमी शमी के पौधे में घी का दीपक जलाएं और सिंदूर से पूजन करें। इस दौरान शनिदेव से प्राथना करें की जल्द ही उनका विवाह हो। इससे शनि दोष भी समाप्त होगा और विवाह में आ रही बाधाएं भी दूर होगी।
  • शनि की साढ़े शाति को दूर करें

  • जिन लोगों को शनि की साढ़े शाति है या शनि का दोष है उन्हें नियमित रूप से शमी के पौधे की देखभाल करनी चाहिए। उसमे रोज पानी डालें, उसके पास दीपक जलाएं। शनिवार को पौधे में उड़द की दाल और काले तिल को अर्पित करें। इससे शनि का दुष्प्रभाव और साढ़े शाति कम होगी। शमी के पौधे का रोजाना दर्शन करने से दुर्घटनाएं कम होती है और शरीर स्वस्थ रहता है।
  • वास्तु दोष दूर करें

  • घर में शमी का पौधा लगाने से वास्तु दोष दूर होते है और घर में नकारात्मक ऊर्जा कम होती है। इससे घर के सदस्यों में आपसी तालमेल और प्रेम रहता है।